मिदनापुर : खूनी ब्लू व्हेल का असर अब भारत में भी दिखने लगा है, तेजी से बच्चों के सुसाइड करने के मामले सामने आ रहे हैं. हाल ही में इस खतरनाक ऑनलाइन ब्लू व्हेल ने एक 10वीं कक्षा के छात्र को अपना शिकार बनाया है. 
 
ये घटना पश्चिम बंगाल के मिदनापुर जिले की है, जहां एक बच्चा इस गेम के झाल में इस तरह फंसा कि उसने अपनी जिंदगी की डोर खुद ही तोड़ दी. 10वीं कक्षा में छात्र की पहचान अंकन देव के रूप में हुई है. घटना के दिन जब वह स्कूल से आया तो सीधा कंप्यूटर पर बैठ गया मां के खाना खाने के लिए बुलाने पर अंकन ने कहा कि वह पहले नहाएगा, इसके बाद वह बाथरूम चला गया.
 
 
वहां उसने अपने सिर को प्लास्टिक से कस कर बांध लिया जिससे दम घुटने से उसकी मौत हो गई. काफी देर होने के बाद भी जब बच्चा बाथरूम से बाहर नहीं आया तो परिजनों ने दरवाजा तोड़ दिया और देखा कि अंकन नीचे गिरा पड़ा था. अंकन को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. 
 
अंकन के एक दोस्त का कहना है कि वह काफी दिनों से इस गेम को खेल रहा था और अब वह आखिरी पड़ाव पर पहुंच चुका था. गौरतलब है कि इससे पहले इंदौर में भी एक 7वीं कक्षा के छात्र ने तीसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की लेकिन उसके दोस्तों की सुझ बुझ से वह बच गया.