नई दिल्ली. नाबालिग से यौन उत्पीड़न के आरोप में करीब 23 महीने से जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद आसाराम को स्कूल की किताबों में संत का दर्जा दिया जा रहा है. आपको बता दें कि जोधपुर की नैतिक शिक्षा की पुस्तक में रेप के आरोपी आसाराम को महान संत बताया गया है. एनसीईआरटी के पैटर्न पर आधारित इस पुस्तक में देश के लिए अमूल्य योगदान देने वाले महान संतों और महात्माओं के साथ आसाराम का फोटो प्रकाशित किया गया है.
  
यह पुस्तक जोधपुर में तीसरी कक्षा के बच्चों को पढ़ाई जा रही है. दिल्ली के गुरुकुल एजुकेशन बुक्स की ओर से नैतिक शिक्षा एवं सामान्य ज्ञान विषय पर प्रकाशित “नया उजाला” किताब के पेज नंबर 40 पर प्रसिद्ध संतों के फोटो प्रकाशित किए गए हैं. मामला उजागर होने के बाद राजस्थान के शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने जांच के आदेश दिए हैं.

एजेंसी