नई दिल्ली: देशभर में नए राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान जारी है. वहीं दूसरी ओर आज से संसद का मानसूत्र सत्र भी शुरू हो चुका है. वहीं सत्र शुरू होने से पहले पीएम मोदी ने जीएसटी पर बात की.
 
पीएम मोदी ने कहा कि GST की सफलता से संसद का मॉनसून सत्र नई उमंग से भरा है. उन्होंने आगे जीएसटी को नया मतलब भी बताया. उन्होंने अपने बयान में कहा कि जीएसटी का मतलब ‘ग्रोइंग स्ट्रांगर टुगेदर’ होता है. यानि एक साथ मजबूती से बढ़ना जीएसटी है.
 
 
उन्होंने आगे कहा कि जीएसटी ने यह मिसाल पेश की है कि देश की सभी पार्टियां और सरकारें राष्ट्रहित में काम करती हैं. इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि इस बार लोगों को ध्यान मानसून सत्र पर कई अहम मुद्दों पर चर्चा को लेकर रहेगा. इसके अलावा मुझे विश्वास है कि सभी राजनीतिक दल, सांसद राष्ट्रहित में फैसले लेंगे और हर विचार और व्यवस्था में वैल्यू एडीशन करेंगे.
 
 
पीएम मोदी ने आगे कहा कि यह सत्र कई वजह से अहम है. उन्होंने कहा बताया कि हम 15 अगस्त को आजादी की 70 साल की यात्रा पूरी कर रहे हैं. 9 अगस्त को अगस्त क्रांति के 75 साल पूरे हो रहे हैं, भारत छोड़ो आंदोलन के 75 साल पूरे होंगे, साथ ही इसी सत्र में राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति चुने जाएंगे. इसलिए देशवासियों का ध्यान इस मानसून सत्र पर विशेष रहेगा.