पटना : बिहार में जारी सियासी घमासान के बीच तेजस्वी यादव के इस्तीफे को लेकर राजनीतिक बयानबाजी की दौर जारी है. जहां एक ओर जेडीयू इस मामले में फूंक-फूंककर कदम रख रही है, वहीं बीजेपी लगातार जेडीयू पर बाहर से समर्थन देने का प्रलोभन देकर महागठबंधन से अलग होने का दबाव बना रही है.
 
इसी बीच जेडीयू ने साफ कर दिया है कि सही समय पर सही फैसला लिया जाएगा. जेडीयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने इस मामले में कहा कि फ़ैसल तो होगा ही हमारा स्टैंड साफ है. उन्होंने शायरी भरे अंदाज में कहा कि वक़्त आने पर बता देंगे तुझे ए आसमां हम अभी से क्या बताये क्या हमारे दिल में है.
 
इस दौरान अजय आलोक ने कहा हमने अपना पक्ष घटक दलों के सामने रख दिया है उसका पक्ष जान गए है अब हमें फैसला लेना है. साथ ही भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कोई समझौता नही करेंगे.
 
 
वहीं दूसरी ओर बीजेपी नेता नंद किशोर यादव ने कहा कि तेजस्वी यादव को हटाने को लेकर फैसला नीतीश कुमार को लेना है. एक सीमा रेखा उन्होंने तय की है जब इस्तीफा नही हुआ और सीमा बीत गई तो नीतीश कुमार जी को करवाई करनी चाहिए.
 
नंद किशोर यादव ने कहा कि ये नीतीश कुमार को खुली चुनौती है, मैं बरसों नीतीश जी के साथ रहा हूं, देखा हूं और मुझे आश्चर्य है वो इस मामले पर चुप क्यों है? नंद किशोर यादव ने कहा कि जो बातें JDU के तरफ से आ रही है वो राष्ट्रपति के चुनाव को लेकर इंतजार कर रहे है. बीजेपी कल तय इंतजार करेगी अगर कल तक एक्शन नही हुआ तो बीजेपी अपना रुख तय करेगी.