नई दिल्ली : देश में गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वाले लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर कड़ी चेतावनी दी है. सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी ने कड़े शब्दों में गोरक्षा के नाम पर इंसानों को मारने-पीटने वाले तथाकथित गोरक्षों को लेकर कहा है कि इस तरह की हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी.
 
पीएम मोदी ने कहा है कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा करना गलत है, ये बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वाले सभी लोग असामाजिक तत्व हैं. प्रधानमंत्री ने सभी राज्य सरकारों से कहा है कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए.
 
बता दें कि पहले भी पीएम मोदी ने हिंसा करने वाले तथाकथित गोरक्षकों पर निशाना साधते हुए पूछा कि गाय के नाम पर इंसान को मारना कैसी गोसेवा है ?
 
पीएम मोदी ने साबरमती आश्रम की स्थापना के 100 साल पूरे होने के मौके पर शताब्दी समारोह में जनता को संबोधित करते हुए कहा था, ‘हमारी धरती अहिंसा की धरती है, हमारी जन्मभूमि महात्मा गांधी की जन्मभूमि है, हम यह कैसे भूल सकते हैं. इस देश में किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है.’
 
प्रधानमंत्री ने कहा था कि गौरक्षा के नाम पर किसी इंसान को मारना कैसी गोसेवा है, हिंसा से आज तक कभी किसी समस्या का समाधान नहीं हुआ और ना ही आगे होगा.