श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में आतंक के लिए फंडिंग के मामले में जांच कर रही एनआईए के अधिकारियों के ऊपर बड़ा हमला हो सकता है. रिपोर्ट्स के मुताबिक सभी अधिकारियों के ऊपर खतरा मंडरा रहा है. एनआईए ने इस मामले में तेजी दिखाते हुए अपने सभी अधिकारियों को नोटिस देकर सावधान कर दिया है.
 
एनआईए ने सभी अधिकारियों से पहचान छिपा कर रखने का निर्देश दिया है. एनआईए के सूत्रों से यह खबर मिली है कि इन अधिकारियों के ऊपर बड़ा हमला किया जा सकता है.
 
केवल कश्मीर में अलगावादियों को पाकिस्तान से आ रही टेरर फंडिंग की जांच में जुटे अधिकारियों को ही नहीं बल्कि उधमपुर, पठानकोट और उरी जैसे हाई प्रोफाइल आतंकी हमलों की जांच में शामिल NIA अधिकारियों को भी निशाना बनाया जा सकता है.
 
 
बता दें कि आतंकी फंडिंग के मामले में जांच कर रहे अधिकारी अब हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी से इस मामल े में दिल्ली बुलाकर पूछताछ कर सकते हैं. इसके पहले यह बात सामने आई थी कि बादाम गिरी के कारोबार की आड़ में लंबे समय से आतंकियों की फंडिंग की जा रही थी.