मुंबई: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पार्टी के 51वें स्थापना दिन भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर जमकर हमला किया. ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने जिनको बड़ा किया है वही आज हम पर वार कर रहे हैं. हमको मध्यवधि चुनाव की धमकी न दें, अगर हिम्मत है तो मध्यावधि चुनाव करके दिखाओ.
 
ठाकरे ने कहा कि बीजेपी सोचे की मध्यावधि चुनाव से शिवसेना डर जाएगी तो ऐसा नहीं है. हमें चुनाव की धमकी मत दो, शिवसेना उससे नहीं भाग रही है. अगर मध्यावधि चुनाव होते हैं तो अबकि बार शिवसेना ही जीतकर आएगी और अपने दम पर महाराष्ट्र में सत्ता बनाएगी. अगर कल ही चुनाव करो हम कल ही तैयार हैं.
 
ठाकरे ने कहा कि बीजेपी ऐसा ना समझे की हमेशा वही जीतती रहेगी, अब वातावरण बदल चुका है. किसान बीजेपी के विरोध में खड़े हैं. इस बीच उद्धव ने बीजेपी को नसीहत भी दे दी. ठाकरे ने कहा कि अगर एक अच्छे दोस्त की तरह रहोगे तो शिवसेना कंधे से कंधा मिलाकर हर जगह खड़ी रहेगी और साथ देगी. अगर दोस्ती के नाम पर अगर पीठ में खंजर घोपोगे तो शिवसेना उलटकर बड़ा वार करेगी.
 
ये भी पढ़ें:
 
बता दें कि तीन दिवसीय मुंबई दौरे पर पहुंचे अमित शाह ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि शिवसेना अगर चाहती है कि महाराष्ट्र सरकार के कार्यकाल के बीच चुनाव हो तो वो उसके लिए भी तैयार हैं. लेकिन महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी.
 
ये भी पढ़ें:
 
बता दें कि काफी समय से बीजेपी और शिवसेना के रिश्तों में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है. किसानों के मुद्दे पर शिवसेना ने बीजेपी पर निशाना साधा. शिवसेना ने महाराष्ट्र की बीजेपी सरकार को धमकाते हुए कहा कि यदि वह राज्य में मध्यावधि चुनाव से बचना चाहती है तो किसानों का कर्ज पूरी तरह माफ करने की घोषणा करे. 
 
ये भी पढ़ें: 
 
मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना को प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बीजेपी महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार है और वह अपने बूते जीत दर्ज करेगी. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने कहा था कि वे समर्थन वापस ले लेंगे और सरकार को गिरा देंगे. हम मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार हैं. अगर वे हमें मध्यावधि चुनाव के लिए बाध्य करते हैं, तो मुझे विश्वास है कि हम एक बार फिर सरकार बनाएंगे.