नई दिल्ली: पूरे देश में जीएसटी की नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था एक जुलाई से लागू होनी है. इसी बीच बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को जीएसटी का ब्रांड एंबेसडर बनाया गया है. अब अमिताभ बच्चन वस्तु एवं सेवाकर जीएसटी की प्रचार-प्रसार करते नजर आएंगे. केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क विभाग ने इस बात की घोषणा कर दी है. 
 
वित्त मंत्रालय ने अपने ट्विटर पर 40 सेकेंड के वीडियो को शेयर करते हुए ट्वीट किया है. मंत्रालय ने कैप्शन में लिखा है, जीएसटी- एक पहल एकीकृत बाजार बनाने के लिए. बताया जा रहा है कि मंत्रालय ने अमिताभ बच्चन के साथ 40 सेकेंड का एक विज्ञापन पहले ही शूट कर लिया है. 
 
 
जीएसटी के प्रचार के लिए और इसे लेकर लोगों में जागरूकता बनाने के उद्देश्य से अमिताभ बच्चन ने जो पहला वीडियो शूट किया है उसमें वो ‘जीएसटी सिर्फ एक टैक्स नहीं, देश के बाजार को एक सूत्र में बांधने की एक पहल है. जीएसटी, एक राष्ट्र एक टैक्स’, बोलते नजर आ रहे हैं.
 
इससे पहले वो वीडियो की शुरूआत में अमिताभ बच्चन अपने चेहरे पर तिरंगे का निशान लगाते हुए बोल रहे हैं कि ये रंग सिर्फ तीन रंग नहीं बल्कि एक पहचान है जो हमें एक सूत्र में बांधता है, इसी तरह जीएसटी सिर्फ एक टैक्स नहीं, देश को बाजार को एक सूत्र में बांधने की पहल है. 
 
बता दें कि अमिताभ बच्चन से पहले जीएसटी की ब्रांड एंबेसडर भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधू थीं. मगर 1 जुलाई से लागू होने वाले जीएसटी के मद्देनजर सीबीईसी ने अमिताभ बच्चन को इसका ब्रांड एंबेसडर बनाने की घोषणा कर दी है. उम्मीद जताई जा रही है कि अमिताभ बच्चन जीएसटी को लेकर लोगों में समझ विकसित करने का काम कर सकेंगे. 
 
 
 
गौरतलब है कि संसद के सेंट्रल हाल में जीएसटी को लागू करने के लिए 30 जून को रात 12 बजे एक भव्‍य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. देश में आजादी के बाद यह सबसे बड़ा टैक्‍स सुधार है.