नई दिल्ली: राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी को लेकर चल रही तमाम अटकलों को विराम देते हुए आज एनडीए ने रामनाथ गोविंद को एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया है. आइए आपको बताते हैं रामनाथ कोविंद से जुड़ी दस बड़ी बातें.
 
1. रामनाथ कोविंद का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को यूपी के कानपुर देहात इलाके में हुआ था.
 
2. उन्होंने कानपुर यूनिवर्सिटी से बी कॉम के बाद कानून की पढ़ाई की.
 
3. अप्रैल 1994 में पहली बार रामनाथ कोविंद यूपी से राज्यसभा के लिए चुने गए और वो लगातार दो बार यहां से सांसद रहे.
 
 
4. रामनाथ कोविंद पेशे से वकील हैं. वो 1977 से 1979 तक दिल्ली हाईकोर्ट में केंद्र सरकार की तरफ से वकील रहे और फिर 1980 से 1993 तक सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार की स्टैंडिंग काउंसिल के वकील रहे. वो 1978 में सुप्रीम कोर्ट के ऑन रिकार्ड वकील बने. उन्होंने हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में करीब 16 सालों तक प्रेक्टिस की. 
 
5. कोविंद दलित कल्याण और दलित उत्थान के लिए बनाई गई संसदीय समितियों के भी सदस्य रहे. इसके अलावा गृह विभाग की संसदीय समिति के अलावा पेट्रोलियम और नेचुरल गैस, सोशल जस्टिस और लॉ एंड जस्टिस को लेकर बनाई गई संसदीय समितियों के भी सदस्य रहे. 
 
पढ़ें- 
 
6. वर्तमान में बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद 1998 से 2002 तक बीजेपी दलित मोर्चा और ऑल इंडिया कोइरी समाज के अध्यक्ष रहे. इसके अलावा वो पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रह चुके हैं.
 
7. रामनाथ कोविंद लखनऊ के अंबेडकर यूनिवर्सिटी और कोलकाता के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के बोर्ड में भी शामिल रहे.
 
8. रामनाथ कोविंद संयुक्त राष्ट्र में भी भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. उन्होंने साल 2002 में भारत की तरफ से संयुक्त राष्ट्र की आम सभा को संबोधित किया था.
 
9. कोविंद दो बच्चों के पिता हैं. उनकी एक बेटी और एक बेटा है.
 
10. रामनाथ कोविंद को 8 अगस्त 2015 को बिहार का गवर्नर बनाया गया था. 
 
पढ़ें –