नई दिल्ली. दिल्ली के एसीबी चीफ एमके मीणा ने बुधवार को केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि ‘करप्शन के खिलाफ बनाई गई हेल्पलाइन 1031 पर आ रही शिकायतों को उनके पास तक नहीं भेजा जा रहा.’ मीणा ने बताया इस मामले में वह चीफ सेक्रेटरी को पहले भी लेटर लिख चुके हैं और फिर से लेटर लिखेंगे.
 
मीणा का कहना है कि, ‘अगर एंटी करप्शन हेल्पलाइन पर आने वाली शिकायतों पर ध्य़ान ही  ही नहीं किया जा रहा, तो उसे या तो बंद कर देना चाहिए या फिर उसे हमारे पास ट्रांसफर करना चाहिए.’
 
आपको बता दें दिल्ली सरकार ने कुछ माह पहले ही  दिल्लीवासियों के लिए एंटी करप्शन हेल्पलाइन नंबर 1031 शुरू किया था. इस नंबर पर मिलने वाली शिकायतों को सीधे एसीबी को दिया जाता है, और इसकी जांच के बाद मामले में उचित कार्रवाई  भी की जाती थी. लेकिन नए एसीबी प्रमुख मुकेश मीणा का दावा है कि उनके आने के बाद उन तक शिकायतें आनी बंद हो गई हैं. ऐसे में मीणा का कहना है कि ‘या तो ऐंटी करप्शन हेल्पलाइन 1031 पर आने वाली शिकायतें उनतक पहुंचाई जाएं या फिर इस हेल्पलाइन नंबर को बंद कर दिया जाना चाहिए.’
 
क्या है एंटी करप्शन हेल्पलाइन नंबर
दिल्ली में भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने की तैयारी में केजरीवाल सरकार ने पांच अप्रैल को एंटी करप्शन नंबर 1031 जारी किया था. दिल्ली सरकार ने रिश्वतखोरी रोकने के लिए एंटी करप्शन हेल्पलाइन की शुरूआत की थी. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल 5 अप्रैल को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में एंटी करप्शन हेल्पलाइन लॉन्च किया गया था.