कोलकाता : विवादित फतवे और लाल बत्ती को ना हटाने पर अड़े रहने वाले कोलकाता के टीपू सुल्तान मस्जिद के शाही मौलाना बरकती की पिटाई का मामला सामने आया है.
 
गौरतलब है कि कल कुछ लोगों ने इमाम के खिलाफ प्रदर्शन किया, साथ ही उन्होंने मस्जिद में प्रवेश कर उनकी पिटाई भी कर दी. जिस शख्स ने शाही मौलाना पर हमला किया उसका नाम उपदेश राणा बताया जा रहा है.
 

उपदेश राणा ने इस पिटाई का एक फेसबुक लाइव वीडियो बनकर शेयर करते हुए अपनी वॉल पर लिखा- ‘बोला था ना मस्जिद में घुसकर मारूंगा, बंगाल में मुझ पर नामजद ,वह मेरे हिंदू शेर साथियों पर अज्ञात में मुकदमे दर्ज, लेकिन मुझे कोई परवाह नहीं है, कुछ सेकुलर झूठे मुकदमे दर्ज करवा रहे हैं तो, बरकती वाला यह सच्चा मुकदमा 1000 बार मंजूर, इंकलाब जिंदाबाद’.
 

इसी के साथ मौलाना की पिटाई करने के बाद अब मैं चैन की नींद सो पाउंगा.इस घटना के बाद मौलाना का भी एक वीडियो सामने आया जिसमें वह घायल अवस्था में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि एक उर्दू अखबार के भड़काने पर कुछ लोगों ने मुझपर हमला बोल दिया. उन्होंने आगे बताते हुए कहा कि मेरे सिर पर किसी भारी चीज से वार किया गया और साथ ही मेरे बाल भी खिचे गए.
 
प्रदर्शन कर रहे लोगों की ये मांग है कि मौलाना मस्जिद परिसर को खाली करें. मौलाना बरकती का ये आरोप है कि उनपर ये हमला आरएसएस की ओर से करवाया गया है. उन्होंने आगे कहा कि ‘मेरे सर पर किसी ने पीछे से हमला किया, मेरा शक है कि इस हमले के पीछे RSS है, RSS मस्जिद कमिटी द्वारा पैदा किए गए हालात का फायदा उठा रहा है.’