जैसलमेर : पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) के एक संदिग्ध एजेंट को शनिवार के दिन राजस्थान के जैसलमेर से पकड़ा गया है. राजस्थान पुलिस और इंडियन आर्मी की इंटेलिजेंस यूनिट के ज्वॉइन्ट ऑपरेशन में हाजी खान नाम के संदिग्ध को पकड़ा गया है.
 
जैसलमेर के कुंजारी गांव से गिरफ्त में आए हाजी खान को फिलहाल पूछताछ के लिए जोधपुर लाया गया है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया है कि हाजी खान आईएसआई तक गोपनीय सूचनाएं पहुंचाने का काम करता था और इंटेलिजेंस यूनिट की निगाहें कई दिनों से हाजी पर थीं.
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक हाजी खान के पास से कई जाली दस्तावेज बरामद किए गए हैं. सूत्रों के मुताबिक हाजी को पहले भी गिरफ्तार किया गया था लेकिन उसके खिलाफ सबूतों के अभाव में उसे छोड़ दिया गया था.
 
स्वदेश वापस जाएंगे दो पाकिस्तानी
हाजी खान के अलावा जैसलमेर से ही दो अन्य पाकिस्तानी नागरिकों को संदिग्ध समझकर पकड़ा गया था, लेकिन पूछताछ के बाद अब उन्हें तुरंत पाकिस्तान भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है.
 
सुरक्षा एजेंसियों ने दोनों से पूछताछ की जिसके बाद उन्हें वापस पाकिस्तान भेजने का निर्णय लिया गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान के रहिमियार खान और साबू खान 10 अप्रैल को पाकिस्तान से 45 दिन के वीजा पर पत्नियों के साथ अटारी बॉर्डर पर आए थे. नियमों के मुताबिक 65 वर्षीय दोनों पाकिस्तानी नागरिकों का 45 दिन का वीजा जैसलमेर तक का कर दिया गया था.