नई दिल्ली : वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ ने अपने सभी अफसरों को चिट्ठी लिखकर हर समय तैयार रहने को कहा है. उन्होंने 12 हजार अफसरों को शॉर्ट टर्म के नोटिस पर ही तैयार रहने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा, ‘किसी भी समय बुलाया जा सकता है, इसलिए हर वक्त ऑपरेशन के लिए तैयार रहें.’
 
एक अंग्रेजी वेबसाइट में छपी खबर में इस बात का खुलासा हुआ है. धनोआ की ओर से लिखे गए इस लेटर में 30 मार्च की तारीख छपी हुई है, इसका मतलब उन्होंने यह चिट्ठी पद संभालने के तीन महीने बाद ही लिख दी थी. 
 
धनोआ ने इस चिट्ठी के जरिए सभी 12 हजार अधिकारियों के सामने पक्षपात और यौन शोषण जैसे मुद्दों की भी जिक्र किया है. वायु सेना के हर एक अफसर के पास इस चिट्ठी को भेजा गया है.
 
पहली बार किसी वायु सेना प्रमुख ने लिखी चिट्ठी
ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई वायु सेना प्रमुख ने चिट्ठी लिखकर अपनी बात अधिकारियों तक पहुंचाई है. इससे पहले थल सेना प्रमुख केएम करिअप्पा ने 1 मई 1950 को और जल सेना प्रमुख के सुंदरजी ने 1 फरवरी 1986 को ऐसी चिट्ठी लिखी थी.
 
धनोआ ने चिट्ठी में कहा है, ‘मौजूदा परिस्थितियों को देखा जाए तो अभी हर जगह खतरा है. इसलिए हमें जितनी सुविधा है उसी में तैयार रहना होगा, किसी भी समय हमारी जरूरत पड़ सकती है, इसी को ध्यान में रखते हुए ही ट्रेनिंग पर फोकस किए जाने की भी जरूरत है.’
 
धनोआ की ओर से किसी भी समय ऑपरेशन के लिए तैयार रहने की बात का इशारा पाकिस्तान की ओर समझा जा रहा है. पिछले कुछ दिनों से कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे सीजफायर उल्लंघन के मामलों में काफी इजाफा हो चुका है और आतंकी गतिविधियां भी लगातार बढ़ रही हैं, इस वक्त कश्मीर में सेना के ऊपर हमले की घटनाएं भी बढ़ चुकी हैं.
 
वायु सेना प्रमुख की ‘जितनी सुविधा है उसमें तैयार रहने’ की बात का इशारा इस तरफ समझा जा रहा है कि फिलहाल वायु सेना के पास पर्याप्त संसाधन नहीं हैं. एयर फोर्स के पास 42 स्क्वाड्रंस फाइटर प्लेन होने चाहिए लेकिन अभी इनकी संख्या 33 ही है.