रायबरेली: यूपी के रायबरेली में एक निजी नर्सिंग स्कूल ने शादी शुदा छात्राओं को सिंदूर लगाकर ना आने का फरमान सुनाया है. सिंदूर लगाकर आने पर स्कूल में जाने की इजाजत नहीं होगी. संस्थान के तुगलकी फरमान के बाद छात्राओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया. इंस्टीट्यूट के गेट पर ताला लगाकर छात्राओं ने नारेबाजी शुरू कर दी.
 
मौके पर पहुंची सीओ सिटी ने छात्राओं को धमकाना शुरू कर दिया. वहीं डायरेक्टर ने कबूल किया कि छात्राओं को सिंदूर लगाकर आने से रोका गया है. बवाल के चलते दो घंटे से ज्यादा समय तक अफरातफरी रही. हाईवे के किनारे संस्थान होने के कारण कई बार जाम की नौबत आई, लेकिन पुलिस ने छात्राओं को रोड जाम करने से रोके रखा.
 
सिंदूर मिटवाए जाने से अव्यवस्थाओं और अभद्र व्यवहार पर भड़की छात्राओं ने न सिर्फ कक्षाओं का बहिष्कार किया, बल्कि गेट बंद कर डायरेक्टर को हटाने की मांग की. साथ ही वार्डेन की तैनाती किए जाने की पुरजोर मांग उठाई. इस दौरान डायरेक्टर और छात्राओं की कहासुनी भी हुई.
 
क्या था मामला ?
लखनऊ-इलाहाबाद हाईवे के पास कृपालु इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल साइंस की छात्राओं ने गुरुवार सुबह पढ़ाई छोड़कर स्कूल परिसर से बाहर हंगामा शुरू कर दिया था. छात्राओं का आरोप है कि यहां पानी की व्यवस्था सही नहीं है, फीस ज्यादा लेते है. यहां तक कुछ शादी-शुदा छात्राओं ने आरोप लगाया कि डायरेक्टर ने सिंदूर लगाने पर भी आपत्ति की जाताई है और उसे जबरदस्ती मिटवा दिया जाता है.