रोहतक: हरियाणा के रोहतक में दिल्ली के निर्भया जैसा कांड हुआ है. एक तलाकशुदा महिला को अगवा कर पहले उसके साथ गैंगरेप किया गया, फिर आरोपियों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं. इसके बाद अपना जुर्म छिपाने के लिए दरिंदों ने महिला की बेरहमी से हत्या कर दी.
 
 
पोस्टरम़ॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक महिला के सिर पर किसी भारी चीज से वार किया गया. ये महिला एक प्राइवेट दवाई दुकान में काम करती थी, दो दिन पहले जब ये अपने घर से निकली तो पड़ोस के गांव में रहने वाले  एक लड़के ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसे अगवा कर लिया. 
 
 
युवती का शव मिलने के बाद पुलिस हरकत में आई और इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस के मुताबिक आरोपी और युवती में जान पहचान थी. आरोपी उस पर शादी के लिए दबाव बना रहा था लेकिन युवती इसके लिए तैयार नहीं थी. इसके बाद आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर युवती को अगवा किया और फिर गैंगरेप के बाद बर्बरता से उसकी हत्या कर दी. उसके शरीर में नुकीली चीज डाली गई और ईंट से सिर कुचल दिया गया.
 
 
सोनीपत के पुलिस अधीक्षक अजय मलिक ने कहा कि इस मामले में सुमित और विकास नाम के दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि सुमित महिला का जानकार था. पुलिस ने बताया कि महिला तलाकशुदा थी और गत नौ मई को सोनीपत से कथित रूप से उसका अपहरण करने के बाद उसे कार से रोहतक ले जाया गया. रेप के बाद हत्या कर दी.
 
 
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस घटना को लेकर निराशा व्यक्त की और महिला सुरक्षा के मुद्दे पर ‘पुनर्विचार’ करने की आवश्यकता जताई. उन्होंने बयान जारी कर कहा, ‘बर्बर और दिल को दहला देने वाली घटना ने देश की अंतरात्मा को झकझोर दिया है जो हमें महिला सुरक्षा के महत्वपूर्ण मुद्दे पर ध्यान देने की जरूरत दर्शाता है’.