नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्किल इंडिया मिशन लॉन्च कर दिया. इस योजना के जरिए युवाओं को एक स्किल के तहत रोजगार से जोड़ने की केंद्र की योजना है. मौजूदा वित्त वर्ष में स्किल इंडिया मिशन के लिए 5,040 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है.

लॉन्चिंग के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा, अब गरीब बच्चा पीछे नहीं रहेगा. ‘गरीब परिवारों को हम इस स्किल इंडिया के जरिए सक्षम बनाएंगे. देश में युवाओं को अवसर चाहिए. नौजवानों को रोजगार ही देश की प्राथमिकता है. पूरी दुनिया आज हमारी तरफ देख रहे है. दुनिया आज भारत को आदर से देख रही है.’ 

नेशनल स्किल डेवलपमेंट मिशन के जरिए हुनर सिखाकर लोगों को रोजगार के काबिल बनाने की योजना है. 2022 तक इसके जरिए 50 करोड़ लोगों को ट्रेनिंग देने का लक्ष्य है. नेशनल स्किल डेवलपमेंट मिशन से 160 ट्रेनिंग पार्टनर्स और 1,722 ट्रेनर्स जुड़े हैं. राष्ट्रीय कौशल विकास अभियान के तहत शुरू किया गया यह महत्वाकांक्षी कार्यक्रम अगले साल तक 24 लाख युवाओं को कौशल प्रशिक्षण देगा और प्रशिक्षित उम्मीदवारों को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी.