मुंबई. महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे विपक्ष द्वारा उनके दिवंगत पिता गोपीनाथ मुंडे को निशाने पर लिए जाने से आहत हैं. पकंजा ने भावुक होकर कहा कि जब विपक्ष मुझपर हमले कर रहा था तब उन्हें अपने हमलों में ‘पापा’ शब्द के इस्तेमाल से बचना चाहिए था क्योंकि मैंने अभी अभी अपने पिता को खोया है.

दरअसल विधानसभा में सोमवार को नारेबाजी हुई. विधायकों ने इसके लिए बच्चों की मशहूर कविता ‘जॉनी जॉनी यस पापा’ का इस्तेमाल किया. विधायकों ने ‘पंकजा पंकजा …यस पापा, ईटिंग चिक्की…यस पापा कहकर पंकजा और उनके पिता पर निशाना साधा था.

पकंजा का नाम बाल विकास मंत्रालय द्वारा ई-निविदा आमंत्रित किए बिना आंगनवाड़ी के लिए चिक्की समेत कई चीजों की खरीद में आया है.