नासिक. महाराष्ट्र के नासिक में आज से सिंहस्थ कुंभ की शुरुआत हो रही है. हजारों की संख्या में साधु और आम लोग नासिक पहुंच चुके हैं और आने वाले दिनों में इनकी संख्या में और बढ़ोतरी होगी. रेलवे ने नासिक से हावड़ा तक के लिए 12 सुपरफास्ट ट्रेनें चलाई हैं.

आज मेले की औपचारिक शुरुआत गृहमंत्री राजनाथ सिंह की ओर से विशेष पूजा अर्चना कर की गई. नासिक में स्थानीय निकाय ने 315 एकड़ से अधिक बड़े स्थान पर साधुओं के रहने के लिए ‘साधू ग्राम’ तैयार किया है. यहां तंबू लगाए गए हैं और शौचालयों, 24 घंटे पेयजल, एलपीजी सिलेंडरों और बिजली की व्यवस्था की गई है.

शाही स्नान नासिक में 29 अगस्त, 13 सितंबर और 18 सितंबर को होगा जबकि त्रयम्बकेश्वर में 29 अगस्त, 13 सितंबर और 25 सितंबर को होगा. सुरक्षा के लिए 15 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है. नासिक पहुंचने के लिए राज्य परिवहन की ओर से 3 हज़ार विशेष बसों को भी लगाया गया है.

कुंभ के दौरान श्रद्धालु गोदावरी नदी में पवित्र स्नान करते हैं. नासिक एवं त्रयम्बकेश्वर पुरोहित संघ के अध्यक्ष सतीश शुक्ला और त्रयम्बकेश्वर पुरोहित संघ के अध्यक्ष जयंत शिखर ने बताया कि हर 12 वर्ष के अंतराल पर हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, माघ माह में जब सूर्य और बृहस्पति एक साथ सिंह राशि में प्रवेश करता है, तब नासिक-त्रयम्बकेश्वर मे कुंभ मेला आयोजित किया जाता है.

एजेंसी