नई दिल्ली: भारत को आज बड़ी सफलात हासिल हुई है. भारतीय नौसेना ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया है. भारत के लिए यह परीक्षण इसलिए खास है क्योंकि यह परीक्षण पोत से सतह पर मार करने के लिए किया गया.
 
परीक्षण के बाद भारत का नाम अब उन चुनिंदा देशों की सूचि में शामिल हो गया जो समुद्र से जमीन पर मार करने में सक्षम हैं. फिलहाल अमेरिका, रूस, ब्रिटेन, और चीन के पास इस तरह की मारक क्षमता पहले से हैं.
यह भी पढ़े- 
 
यह परीक्षण बंगाल की खाड़ी में किया गया. जानकारी के अनुसार लंबी दूरी की मारक क्षमता वाली इस मिसाइल को गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट तेग से जमीन पर स्थित एक निर्धारित लक्ष्य पर दागा गया, जिसमें नौसेना को सफलता मिली.
 
यह भी पढ़े- 
 
भारतीय नौसेना में 2007 से ब्रह्मोस का जमीन पर मार करने वाला संस्करण संचालित है लेकिन अब भारत के पास सतह से जमीन पर मार करने संस्करण भी उपलब्ध हो गए हैं. इसे जमीन, समुद्र से जमीन पर सटीक निशाना लगाया जा सकता है. इस मिसाइल को भारत और रूस ने संयुक्त रूप से तैयार किया है. माना जा रहा है कि इस प्रकार का यह पहला मिसाइल है.  भारत पहले ऐसा परीक्षण कभी नहीं किया था.