लखनऊ: यूपी में आज से वीवीआईपी कल्चर खत्म हो गया. सीएम योगी ने ऐलान किया है कि आज से कोई भी मंत्री लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं करेगा. सीएम योगी ने भले ही लाल बत्ती उतार दी हो लेकिन उनके मंत्री इसका मोह नहीं छोड़ पा रहे. आज भी कई मंत्रियों-अफसरों की गाड़ियां लाल और नीली बत्ती में नजर आईं.
 
ये भी पढ़ें:
 
सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपनी गाड़ी से भी लाल बत्ती हटा दी है. आज जब वो दफ्तर पहुंचे तो उनकी गाड़ी से लाल बत्ती नदारद थी. हालांकि गुरुवार को बुंदेलखण्ड के दौरे के दौरान सीएम योगी लाल बत्ती लगी गाड़ी में ही नजर आए थे. जबकि आज उन्होंने लाल बत्ती उतार दी. लेकिन उनके मंत्री इसका मोह नहीं छोड़ पा रहे. कई मंत्रियों और अफसरों की गाड़ियों में अभी भी लाल और नीली बत्ती में नजर आई.
 
ये भी पढ़ें:
 
लाल बत्ती कल्चर को लेकर उठाए गए नरेंद्र मोदी के कदम की चारों तरफ तारीफ हो रही है, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके इस फैसले को लेकर ट्विटर पर कसीदे पढ़े. उन्होंने लिखा कि लालबत्ती हटाने के केन्द्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले का हम स्वागत करते हैं. हर भारतीय VIP हैं. लक्ष्य अंत्योदय प्रण अंत्योदय पथ अंत्योदय.
 
ये भी पढ़ें:
 
केंद्र सरकार ने हाल ही में सभी नेताओं, मंत्रियों की गाड़ी से लाल बत्ती को हटाने का आदेश दिया है. एक मई से पूरे देश में लाल बत्ती पर रोक लगा दी जाएगी. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद सभी केंद्रीय मंत्रियों से गाड़ियों से लाल बत्ती को हटाने का काम शुरू कर दिया है. नरेंद्र मोदी ने इस फैसले को लेने के बाद ट्वीट किया था की हर भारतीय खास और वीवीआईपी है. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा की यह कदम काफी पहले उठा लेना चाहिए था लेकिन खुशी है की आज इसकी शुरुआत हो गई है.