लखनऊ : लाल बत्ती कल्चर को लेकर उठाए गए नरेंद्र मोदी के कदम की चारों तरफ तारीफ हो रही है, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके इस फैसले को लेकर ट्विटर पर कसीदे पढ़े.
 
आज सुबह योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर पर लिखा :
 
गौरतलब है की केंद्र सरकार ने हाल ही में सभी नेताओं, मंत्रियों की गाड़ी से लाल बत्ती को हटाने का आदेश दिया है. एक मई से पूरे देश में लाल बत्ती पर रोक लगा दी जाएगी. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद सभी केंद्रीय मंत्रियों से गाड़ियों से लाल बत्ती को हटाने का काम शुरू कर दिया है. 
 
नरेंद्र मोदी ने इस फैसले को लेने के बाद ट्वीट किया था की हर भारतीय खास और वीवीआईपी है. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा की यह कदम काफी पहले उठा लेना चाहिए था लेकिन खुशी है की आज इसकी शुरुआत हो गई है. 
 
नियम तोड़ने पर होगी कार्रवाई
 
लाल बत्ती वाले मामले पर सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ने कहा की लाल बत्ती होने की वजह से मंत्री जगह-जगह पर ट्रैफिक से निकल जाते थे. इसी बात को लेकर लोगों में गुस्सा था. उन्होंने कहा की जो भी इस निर्णय का पालन नहीं करेगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. इस फैसले के बाद अब लोगों में नेताओं की जो छवि बनी हुई है उसमें सुधार आएगा.
 
गौरतलब है की  पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार बनने के बाद शनिवार को पहली बार कैबिनेट की बैठक हुई जिसमें फैसला लिया गया कि मुख्यमंत्री, विधायक या शीर्ष अधिकारी अपने वाहन में लाल बंती का इस्तेमाल नहीं करेंगे.