किच्छा: तीन तलाक के खिलाफ मुस्लम महिलाओं ने आवाज उठानी तेज कर दी है. उत्तराखंड के किच्छा में तीन तलाक की पीड़ित एक महिला ने हिंदू धर्म कबूल कर लेने की धमकी दी है. पीड़ित का कहना है कि अगर तीन तलाक जैसी कुरीति खत्म नहीं हुई तो वो मुसलमान धर्म ही छोड़ देगी. कम से कम इस बात की तो तसल्ली रहेगी कि तीन तलाक कहने से वो हमें छोड़कर नहीं जाएगा. अपनी औरत तो बना कर रखेगा. 
 
 
क्या कहा महिला ने ?
महिला ने कहा कि तीन तलाक हम औरत को बोलेंगे और औरत झुक जाएगी तो हम झुकेंगे नहीं. हम ये मुसलमान धर्म को ही छोड़ देंगे. हम हिंदू धर्म में चले जाएंगे कम से कम आदमी तीन शब्दों में हमारी जिंदगी तो बर्बाद नहीं करेगा. अपनी औरत तो बना के रखेगा. हम सारी जिंदगी बुढ़ापे तक आदमी का साथ देते हैं और बुढ़ापे में अगर आदमी आकर हमें बोल देगा तीन बार कि मैंने तुझे तलाक दिया तो भाड़ में गए बच्चे और भाड़ में गया परिवार. वो छोड़ देगा और हमारी जिंदगी बर्बाद हो जाएगी. बुढ़ापे में हम कहां जाएंगे ?
 
 
फैजाबाद के गोंडा में कोर्ट में जज के सामने तीन तलाक का मामला सामने आया. अदालत में शौहर ने अपनी बीवी को तलाक दिया और शपथ पत्र दाखिल कर रफूचक्कर हो लिया. पीड़िता रुकैया खातून का निकाह 8 नवंबर, 2014 को आरोपी महफूज़ अहमद से निकाह हुआ था. पीड़िता का आरोप है कि उसके पति ने दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर उसे प्रताड़ित करना शुरु कर दिया. पत्नी ने पति समेत 6 लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला 10 जून, 2015 को दर्ज कराया. गुजारे भत्ते की अर्जी में  पेशी के दौरान महफूज ने अपनी पत्नी को तलाक दे दिया.
 
 
गोंडा नगर के एक मोहल्ले की रहने वाली 20 वर्षीय तब्बसुम के वालिद सब्जी बेचकर परिवार चलाते है. उन्होंने तबस्सुम की शादी 17 अप्रैल 2013 को बहराइच के इस्माईल से दहेज के साथ शादी की थी. दहेज में मोटर सायकिल के आलावा काफी जेवर व अन्य सामान भी दिया था. इसके बाद भी ससुरालियों ने उसे दहेज के लिए सताने लगे उनकी डिमांड की. कुछ महीने बाद जब तब्बसुम प्रेग्नेंट हो गयी तो उसके पति ने उसे गोंडा लाकर छोड़ दिया. इधर तब्बसुम को लड़की हुई और इससे नाराज शौहर ने फोन पर ही तीन तलाक देकर अपनी भाभी की बहन के साथ निकाह कर लिया. 
 
 
सीएम योगी से आस
सभी तलाकशुदा महिलाओं ने सभी उच्चाधिकारियों से की लेकिन इन्हें निराशा ही हाथ लगी. सभी को अब सूबे के नए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी से पूरी उम्मीद है की उसे न्याय मिलेगा. तबस्सुम ने मीडिया से बातचीत में कहा कि तीन तलाक बंद होना चाहिए. पीड़िता का कहना है की उन्होंने तो तीन तलाक कह कर मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी और दूसरी शादी कर गुलछर्रे उड़ा रहे है.