कानपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के पोस्टरों पर कालिख पोत देने से सनसनी फैल गई है. बीजेपी की कानपुर में प्रस्तावित समीक्षा बैठक से ठीक पहले हुए इस घटना से बीजेपी नेता हैरत में हैं. उल्लेखनीय है कि कानपुर में शनिवार को महासंपर्क अभियान की समीक्षा बैठक हो रही है. पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने कार्यकर्ताओं को सभी होर्डिग पर लगी कालिख हटाने के निर्देश दिए हैं.

कानपुर में रकेट तिराहा, हीर पैलेस सिनेमा हॉल तथा नरौना चौराहे पर लगे होर्डिग्स पर कालिख पोती गई है. इन सभी होर्डिग्स में अन्य नेताओं की तस्वीरें भी हैं, लेकिन कालिख सिर्फ मोदी और शाह की तस्वीरों पर पोती गई है. इससे ऐसा लगता है कि मोदी और शाह के विरोधियों ने यह कारनामा किया होगा.

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता हरीश श्रीवास्तव ने कहा कि मोदी और शाह के पोस्टरों पर कालिख पोतने जैसा काम अराजक तत्व ही कर सकते हैं. केंद्र सरकार की उपलब्धियां ऐसे लोगों को पच नहीं रही हैं.

इस घटना के पीछे भाजपा के लोगों के शामिल होने के सवाल पर श्रीवास्तव ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि भाजपा का कोई कार्यकर्ता ऐसा करेगा. यह अराजक तत्वों का काम है, जो अहम बैठक से ध्यान भटकाना है.

-IANS