नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने के लिए जनमत संग्रह में कुछ भी गलत नहीं मानती है. पार्टी ने कहा है कि जनमत संग्रह असंवैधानिक नहीं है. पार्टी के नेता दिलीप पांडे ने कहा है कि पहले कांग्रेस तथा भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भी इसकी मांग कर चुकी है.

उन्होंने कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग करना केंद्र सरकार के समक्ष पहला जन समर्थक मुद्दा है और उम्मीद है कि प्रधानमंत्री इसे स्वीकार करेंगे. पांडे ने संकेत दिया कि पूर्ण राज्य के मुद्दे पर जनमत संग्रह के लिए सरकार चुनाव आयोग की भी मदद ले सकती. पांडे ने कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने पर वर्तमान में हो रही चर्चा आप की पहल नहीं है, बल्कि इस मुद्दे को बीजेपी तथा कांग्रेस ने साल 1993 में ही उठाया था.

उन्होंने कहा कि साल 2013 में बीजेपी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के पहले अपने विजन डॉक्युमेंट में दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने के बारे में जिक्र किया था.पांडे ने कहा, ‘जब बीजेपी को लगने लगा कि वह हार की तरफ बढ़ रही है, तो उन्होंने पूर्ण राज्य के मुद्दे से हाथ खींच लिया.’