फतेहाबाद : अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने कल यानी की सोमवार को संसद घेराव की चेतावनी दी थी लेकिन जाटों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मिलने के बाद कल होने वाले जाट आंदोलन को फिलहाल 15 दिनों के लिए टल दिया गया है.
 
 
अभी-अभी ये खबर सामने आई है की कल होने वाले इस प्रदर्शन को टाल दिया गया लेकिन इससे पहले दिल्ली मार्च को लेकर कोशिशि कर रहे जाट प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हो गई जिसमें कई लोग घायल हो गए हैं.
 
इस मुठभेड़ में पुलिस उपाधीक्षक समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं. पुलिस और जाट प्रदर्शनकारियों के बीच हुए इस संघर्ष के बाद एक जाट नेता ने कहा की जब वह शांतिपूर्वक तरीके से मार्च कर रहे थे तो हम लोगों को अलग-अलग करने के लिए पुलिस को आंसू गैस छोड़ने की क्या जरूरत थी. उन्होंने आगे बताते हुए कहा की ऐसा करने से कई जाट नेता घायल हो गए. 
 
 
जिस दौरान ये संघर्ष चल रहा था उसी वक्त कुछ प्रदर्शनकारियों पर पथराव भी किया गया. पुलिस ने बताया की जाट प्रदर्शनकारियों ने दो बसों और जीप को भी क्षतिग्रस्त करने के लिए उनमें आग लगा दी. जाट प्रदर्शन को लेकर पुलिस ने धारा 144 को भी लागू कर दिया है. इसी के साथ कई मुख्य मेट्रो स्टेशन पर भी मेट्रो की सुविधा नहीं को आज रात से बंद करने की बात भी सामने आई थी.