महाराष्ट्र : मरीज का इलाज करने में डॉक्टर कोई कसर नहीं छोड़ते लेकिन कभी-कभार हलात काफी खराब हो जाते हैं जिसके बाद मरीज के रिश्तेदार आक्रमक होकर तोड़-फोड़ करने लगते हैं, हाल ही में महाराष्ट्र के धुल में सरकारी अस्पताल में एक मरीज के रिश्तेदारों ने इलाज में हो रही देरी के चलते डॉक्टर को बेरहमी से पीट-पीटकर घायल कर दिया.
 
अस्पताल सूत्रों के मुताबिक, मरीज के सिर पर काफी चोट लगी थी जिस कारण उसे अस्पताल में भर्ती करवाया था लेकिन अस्पताल में न्यूरोसर्जन न होने की बात कह कर मरीज को दूसरे अस्पताल रेफर करने की सलह दी. डॉक्टर की इस बात को सुनने के बाद मरीज के रिश्तेदारों ने डॉक्टर को रोड से पीटना शुरू कर दिया.  डॉक्टर को पीटने वाले एक शख्स ने पुलिस हिरासत में खुदकुशी कर ली है.
 
इस घटना के बाद डॉक्टर रोहन ममोरकर की छाती,पेट,सर और आखं पर गंभीर चोट आई है. उन्हें ज्यूपिटर अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है की कैसे 30 लोग बेरहमी से डॉक्टर को पीट रहे हैं.
 
 
बता दें की पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए शिकायत दर्ज कर 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. सीसीटीवी फुटेज के सामने आने के बाद महाराष्ट्र सरकार के हेल्थ डिपार्टमेंट ने पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं.