तिरूवनंतपुरम. भारतीय तटरक्षक दल ने केरल के समंदर में एक ईरानी जहाज को पकड़ा है. बरुकी नाम की मछली पकड़ने वाली यह जहाज 25 मई को ईरान के कलात से रवाना हुई थी. उस पर कुल 12 लोग सवार थे. जहाज से एक पाकिस्तानी पहचान पत्र भी मिला है. तटरक्षक दल पश्चिमी कमान के प्रवक्ता दीपक शर्मा के मुताबिक केरल राज्य पुलिस से सूचना मिली थी कि अलेप्पी से 100 किलो मीटर दूर समंदर में एक संदिग्ध फिशिंग ट्रॉलर है.

सूचना की समीक्षा के बाद तुरंत एक डोनियर हवाई जहाज को सर्विलेंस के लिए भेजा गया. साथ ही कोच्चि से तटरक्षक दल की ‘समर’ और अभिनव जहाज को भी रवाना किया गया. उस समय मौसम ख़राब था. समंदर में नाव को खोज पाना मुश्किल हो रहा था. बावजूद इसके कई घंटों की मशक्कत के बाद चार जुलाई की आधी रात को डोनियर ने संदिग्ध जहाज की पहचान कर ली.

तटरक्षक दल की दोनों जहाजों ने सुरक्षित दूरी से रात भर उस पर नजर रखी और फिर पांच जुलाई की सुबह कोस्ट गॉर्ड की बोर्डिंग टीम ने उस पर कब्ज़ा कर लिया. जहाज पर कुल 12 लोग सवार मिले. जहाज को तटरक्षक दल की निगरानी में विझिन्जम पोर्ट पर लाया गया. बोट पर से एक पाकिस्तानी पहचान पत्र भी मिला है और एक थुराया सैटेलाइट फ़ोन भी मिला है. आईबी, स्थानीय पुलिस सहित सभी सुरक्षा एजेंसिया जांच में जुटी है. जहाज पर बड़े पैमाने पर कीमती प्रतिबंधित सामान होने की सुचना थी. पश्चिमी कमान के तटरक्षक दल के प्रवक्ता दीपक शर्मा के मुताबिक, अभी मामले की जांच चल रही है.

एजेंसी