नई दिल्ली. कोयला आवंटन घोटाले में आरोपी बनाए गए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने ट्रायल कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है. सिंह को उम्मीद हैं कि सुप्रीम कोर्ट उनके खिलाफ आए समन को निरस्त कर देगा. बता दें कि ये मामला 2005 में ओडिशा में तालाबीरा-2 कोयला ब्लाक आवंटन से जुड़ा है. तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पास उस समय कोयला मंत्रालय का प्रभार था. इस मामले में विशेष अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पांच अन्य को आरोपी के तौर पर समन जारी किया था. उन्हें आठ अप्रैल को पेश होने के लिए कहा गया था. सीबीआई के विशेष न्यायाधीश भरत पराशर ने आईपीसी की धाराओं 120 बी (आपराधिक साजिश) और 409 (किसी लोकसेवक, या बैंकर, व्यापारी या एजेंट द्वारा आपराधिक विश्वासघात) और भ्रष्टाचार रोकथाम कानून (पीसीए) के प्रावधानों के तहत छह आरोपियों को कथित अपराधों के लिए समन दिया था.