नई दिल्ली. यूपीए सरकार में कानून मंत्री रहे और कर्नाटक के पूर्व राज्यपाल हंसराज भारद्वाज ने ललित मोदी के मामले में अपनी ही पार्टी के रुख की आलोचना की है. इंडिया न्यूज से खास बातचीत करते हुए हंसराज ने कहा कि कांग्रेस को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे द्वारा ललित मोदी की मदद करने की आलोचना करना सही है  लेकिन बाद में धौलपुर का महल वाला विवाद लाना सही नहीं है.

हंसराज ने कहा कि महल कांग्रेस के नहीं है. इससे पहले हंसराज ने कहा था कि कांग्रेस अभी इस स्थिति में नहीं है कि वह पीएम मोदी के प्रभाव को रोक सके और राहुल गांधी भी ज़मीनी हक़ीक़त से दूर हैं और पार्टी को बिहार और यूपी में खुद को मज़बूत करने पर ध्यान देना चाहिए.