चेन्नई. तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के बेटे और डीएमके नेता एमके स्टालिन एक नए विवाद में फंसते नज़र आ रहे हैं. स्टालिन पर आरोप है कि उन्होंने बुधवार को चेन्नई मेट्रो से यात्रा के दौरान एक सहयात्री के साथ बदसलूकी की, जिसका वीडियो सोशल मीडिया वेबसाइटों पर वायरल हो रहा है. इसके बाद मचे बवाल में अब सीएम जयाललिता भी कूद गईं हैं. 

जयललिता का हमला
लेकिन तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता इस सफाई से संतुष्ट नहीं दिखीं. उन्होंने स्टालिन पर हमला बोलते हुए कहा है कि स्टालिन एक नेता बनने लायक नहीं हैं. जयललिता ने एक वक्तव्य में कहा, “एमके स्टालिन का बर्ताव एक विधायक के अनुरूप नहीं है… सार्वजनिक जगहों पर हर कोई एक समान होता है और स्टालिन को वहां सम्मानजनक तरीके से बर्ताव करना चाहिए…”

स्टालिन का पलटवार
इसके बाद, जयललिता के आरोपों पर पलटवार करते हुए स्टालिन ने कहा, “जयललिता खुद मेट्रो के उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं हुईं और अब लोगों का ध्यान बंटाने के लिए वह मुझ पर एक सहयात्री को थप्पड़ मारने का आरोप लगा रही हैं…”