नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल अपनी इमेज को चमकाने के लिए 526 करोड़ रुपए खर्च करने जा रहे हैं. जहां शीला सरकार का विज्ञापन का बजट भी 2013-14 में करीब 33 करोड़ था. वहीं, दिल्ली सरकार अपने कामों को बताने के लिए 526 करोड़ खर्च करेगी.

 इसी बीच केजरीवाल के उस विज्ञापन पर विवाद हो गया है जो रेडियों पर दिन में करीब 40 बार चलता है. कभी आम आदमी पार्टी में रह चुके प्रशांत भूषण विज्ञापन के मामले में सुप्रीम कोर्ट में अपील करने जा रहे हैं.