भोपाल. व्यापमं घोटाले में अब तक 43 आरोपियों की मौत होने के बाद शिवराज सरकार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है. मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित एसआईटी से कराने की मांग की है. शिवराज ने कहा कि उन्हे राज्य की एसआईटी पर भरोसा नहीं है.

इससे पहले सिंह ने ट्वीट करके कहा था कि इस घोटाले में अब तक दो हजार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इस मामले में एक हजार लोगों की गिरफ्तारी होने बाकी है.