नई दिल्ली:  जन वेदना सम्मेलन को दूसरी बार संबोधित करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने फिर एक बार पीएम नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया. राहुल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का निशान यानी हाथ भगवान शिव, गुरूनानक, महात्मा बुद्ध और भगवान महावीर जी के चित्रों में भी नजर आता है.  
 
 
 
उन्होंने बताया कि एक बार उन्होंने करन सिंह जी से पूछा कि इस चिन्ह का क्या महत्व है तो उन्होंने बताया इसका मतलब है कि डरो मत और सच्चाई का सामना करो. आगे उन्होंने कहा कि कांग्रेस का सिद्धांत कहता है कि डरो मत और दूसरों का सिद्धांत कहता है कि डरो और डराओ.
 
नोटबंदी के फैसले पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि क्या आपने बैंक की लाइन में लगे करोड़ों लोगों में से किसी को भी भ्रष्टाचारी पाया? राहुल गांधी ने पीएम पर हमला बोलते हुए कहा कि पीएम ने जब देखा कि सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक की है तो उन्होंने नोटबंदी कर किसानों और गरीबों पर सर्जिकल स्ट्राइक कर दिया. 
 
 
राहुल ने बीजेपी को फिर एक बार सूट-बूट की सरकार कहते हुए कहा कि सूट-बूट की सरकार का सिद्धांत है ‘राम नाम जपना, गरीबों का माल अपना’ 
 
राहुल ने पीएम मोदी ने नोटबंदी के एलान को फिल्मी करार देते हुए कहा कि पीएम ने अमिताभ बच्चन की फिल्मों के तर्ज पर देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि ‘देशवासियों सॉरी मित्रों, अपने जेब में हाथ डालो, ये जो तुम्हारे जेब में 500 और 1000 के नोट हैं अब ये रात 12 बजे से बंद हो जाएंगे. आप मुझे सहयोग करो ताकि 10-15 साल बाद आपको मैं नया भारत दे सकूं.’