नई दिल्ली. कथित फर्जी डिग्री विवाद में फंसी केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की मुश्किलें बढ़ गई हैं. दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया है. मामले की अगली सुनवाई 28 अगस्त को होगी. इससे पहले ईरानी द्वारा चुनाव आयोग के समक्ष दाखिल हलफनामे में अपनी शैक्षणिक योग्यता के बारे में कथित तौर पर गलत जानकारी देने के खिलाफ कोर्ट में शिकायत की गई है.

यह शिकायत स्वतंत्र लेखक अहमर खान ने दायर की थी. उन्होंने आरोप लगाया है कि स्मृति ने लोकसभा और राज्यसभा के चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करते समय चुनाव आयोग के समक्ष तीन हलफनामे पेश किए थे, जिनमे उन्होंने अपनी शैक्षणिक योग्यता के बारे में अलग-अलग ब्योरा दिया है.