मुंबई. महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कथित फर्जी डिग्री विवाद पर सफाई देते हुए कहा है कि उनकी डिग्री फर्जी नहीं है. तावड़े ने कहा है कि ‘मैं पुणे दयानेश्वर विद्यापीठ का छात्र रहा हूं और मुझे इस पर गर्व है. तावड़े ने दावा किया कि उन्होंने जो  विश्वविद्यालय से जो डिग्री हासिल की थी उसे कभी नहीं छिपाया है.

महाराष्ट्र के मंत्री ने कहा कि विद्यापीठ में एक ब्रिज कोर्स शुरू किया गया था जिसका लक्ष्य सैद्धांतिक जानकारी के साथ छात्रों को प्रायोगिक जानकारी देना था. मैंने 1980 में पाठ्यक्रम में दाखिला लिया और 1984 में पास किया. पाठ्यक्रम में पार्ट टाइम शिक्षा और पार्ट टाइम इंटर्नशिप दी जाती है. तावड़े का यह बयान उस समय आया है जब खबर आ रहीं है कि उनकी बीई इलेक्ट्रॉनिक्स की ‘डिग्री’ फर्जी है.