नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के हाल के एक विज्ञापन को लेकर उस पर हमला करते हुये स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव ने आप सरकार पर ऐसे साधनों का सहारा लेकर राजनीतिक भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाया. यादव ने कहा कि ऐसे विज्ञापनों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बावजूद सरकार एक व्यक्ति का महिमा मंडन करने में जनता का धन इस्तेमाल कर रही है.

योगेंद्र ने कहा, यह एक तरह का राजनीतिक भ्रष्टाचार है क्योंकि इसमें जनता के धन का इस्तेमाल किया गया है. यहां पर संवाददाताओं के साथ बातचीत में उन्होंने कहा, नई तरह की राजनीति करने का वादा करके आप सत्ता में आयी. लेकिन इस तरह के विज्ञापन से वह मायावती और जयललिता सरकार की श्रेणी में शामिल हो रही है. पिछले सप्ताह स्वराज अभियान के एक अन्य नेता और वकील प्रशांत भूषण ने कई ट्वीट के जरिए कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद यह विज्ञापन धन के भद्दे दुरुपयोग और केजरीवाल की अपरिपक्वता को दर्शाता है.