बेमेतरा: नोटबंदी के बाद मंदी की मार झेल रहे किसानों ने सोमवार को विरोध का हैरान करने वाला तरीका अपनाया. छत्तीसगढ़ के दुर्ग में किसानों ने 70 ट्रक टमाटर सड़क पर फेंक दिया. किसानों के मुताबिक इन ये टमाटर मह़ज एक रुपए किलो बिक रही है. जिससे नाराज़ होकर किसानों ने ये कदम उठाया. 
 
नोटबंदी की वजह से उचित कीमत नही मिलने से किसान बेहद नाराज हैं. यह मामला दुर्ग जिले के धमधा के सब्जी मंडी का है. दरअसल इस इलाके में टमाटर की बंपर पैदावार हुई है, उपज इतनी ज्यादा हो गई है कि इसकी मांग न के बराबर हो गई है. इससे किसानों की लागत भी वसूल नहीं हो पा रही है और एक कैरेट टमाटर के बदले 10 रुपए भी मुश्किल से ही मिल रहे हैं. 
 
अगर सीधे शब्दों में कहा जाए तो एक किलो टमाटर के बदले किसानों को 30 पैसे भी सही से नहीं मिल रहे हैं. इससे नाराज किसानों ने आज बेमेतरा में सड़क पर टमाटर फेंक दिए और जमकर प्रदर्शन किया. किसानों ने सरकार से मांग की है कि हमारे जिले में फूड एंड प्रोसेसिंग यूनिट लगाई जाए ताकि हमारी फसल की अच्छी कीमत मिले. प्रदर्शनकारी किसानों ने अपनी मांगों को लेकर SDM को मुख्यमंत्री रमन सिंह के नाम पर ज्ञापन भी सौंपा है.