नई दिल्ली.  काला धन को सफेद करने वालों के खिलाफ वित्त मंत्रालय की ओर से एक बार फिर से सख्त चेतावनी दी गई है. आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने कहा है कि एजेंसियां ऐसे लोगों पर नजर रखी रही हैं.
 
दास ने ट्वीट कर कहा ‘ जो लोग मनी लॉन्डरिंग और कालेधन को सफेद करने में लगे हैं उनको किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा. जांचा जारी है. जरूरी कार्रवाई की जा रही है. कुछ नतीजे भी देखे जा सकते हैं और आने वाले दिनों में ऐसी ही और मामले सामने आने वाले हैं.
 

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद से कई लोगों के जन-धन खाते में करोड़ो रुपए जमा किए गए हैं. वहीं लोकसभा में आयकर संशोधन बिल भी पास कर दिया गया है जिसके मुताबिक खुद से कालाधन उजागर करने पर 50 फीसद टैक्स और पकड़े जाने पर 85 फीसद टैक्स वसूलने का नियम बनाया गया है.
 
हालांकि इस बिल पर विपक्ष सवाल उठा रहा है. नेताओं का कहना है कि जब काला धन रखने वालों को 50 फीसद की छूट ही देनी थी तो जनता को लाइन में खड़े होने के लिए मजबूर किया गया.
 

आपको बता दें कि नोटबंदी के खिलाफ कांग्रेस, टीएमसी, बसपा, सपा और वामपंथी पार्टियां संसद में लगातार विरोध कर रही हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस फैसले पर प्रधानमंत्री की मंशा पर ही सवाल उठा दिए हैं.
 
मेरठ में केजरीवाल ने कहा कि पहले वह भी प्रधानमंत्री को ईमानदार समझते थे लेकिन नोटबंदी के फैसले के पीछे बहुत बड़ा घोटाला हुआ है.