बेंगलुरू. नोटबंदी के बाद आम आदमी नोटों की किल्लत से जूझ रहा है वहीं बेंगलुरू में इनकम टैक्स (IT) के छापे में दो इंजीनियर के घर छापे में करीब चार करोड़ सत्तर लाख रुपए की नई करेंसी के नोट बरामद हुए हैं. नोटबंदी के बाद लोग बैंकों और एटीएम के बाहर मात्र 2500 रुपए के लिए करीब दो घंटे लाइन में लगना पड़ता है और इन अफसरों के पास बड़ी मात्रा में नई करेंसी मिलने पर IT के अफसर भी सकते में आ गए.
 
 
चार करोड़ सत्तर लाख की रकम दो-दो हजार के नए नोटों के रुप में हैं. बेंगलुरू के अलावा IT विभाग ने कर्नाटक और गोवा में सरकारी इंजीनियर और दो ठेकेदारों के घरों पर छापे मारे हैं. इस सर्च ऑपरेशन में अब तक छह करोड़ से ज्यादा रकम बरामद हुई है. इन लोगों के पास करीब छह करोड़ रूपए में चार करोड़ सत्तर लाख की तो नई करेंसी ही थी और तो और नई करेंसी में सभी नोट दो हजार के थे. 
 
 
IT के एक अफसर ने बताया कि इन दोनों अफसरों के पास इतनी बड़ी तादाद में नई करेंसी कैसे पहुंची ? इसे लेकर अभी भी जांच की जा रही है. इसके अलावा पांच किलो से ज्यादा गोल्ड और छह किलो की ज्वैलरी भी बरामद की गई. इनकम टैंक्स विभाग ने प्रॉपर्टी के भी कई कागजात जब्त किए हैं.
 
IT अफसर ने बताया कि पकड़े गए इंजीनियर लग्जरी लाइफ जीते थे. इन लोगों के पास मौके से पहचान पत्र मिले हैं. माना जा रहा है कि इनका इस्तेमाल पुराने रुपए एक्सचेंज करवाने में भी किया गया है. मिली जानकरी के अनुसार इनमें एक स्टेट हाइवे डेवलपमेंट प्रोजेक्ट में चीफ प्लानिंग ऑफिसर है.