नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी के प्लेन की बुधवार को कोलकाता एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई. टीएमसी ने इसको लेकर मोदी सरकार पर साजिश का आरोप लगाया है. पार्टी नेता सुंदीप बंधोपाध्याय ने राज्यसभा में इस मुद्दे को उठाया. उन्होंने कहा कि सीएम ममता की जान को इससे खतरा हो सकता था. यह एक सोची-समझी साजिश थी.
 
विपक्ष ने जांच की मांग की
इस मामले को लेकर लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ. इस हंगामे के चलते लोकसभा को कल तक यानी शुक्रवार तक और राज्यसभा को दो बजे तक स्थगित कर दी गई है. सपा सांसद रामगोपाल यादव ने कहा कि इस मामले की हर हाल में जांच होनी चाहिए और साथ ही रिपोर्ट सदन में रखी जानी चाहिए. वहीं जेडीयू से सांसद शरद यादव ने कहा कि केंद्र इसकी जांच को तुरंत आदेश दें. 
 
‘हम हरेक की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध’
उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि हम सभी यात्रियों की सुरक्षा के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं. पूरे दुनिया में लैंडिंग प्रोसीजर्स हैं ऐसे विमान की लैंडिंग के लिए. किसी को इसपर शंका नहीं होनी चाहिए. लौ फ्यूल होता है तो क्या तौर तरीके हैं यह सब स्थापित है. जो रेगुलेशन है सेफ्टी का उसके मुताबिक़ जहाज़ को उतरने से पहले होवेरिंग करने 30 मिनट तक का समय होना चाहिए.
 
फ्लाइट की इमरजेंसी लैडिंग कराई गई
बता दें कि ममता बनर्जी पटना से रैली को नोटबंदी पर विरोध प्रदर्शन कर लौट रही थी. वे इंडिगो की पटना-लखनऊ-कोलकाता प्लेन में थीं. तभी फ्लाइट के पायलट ने एटीसी से कोलकाता एयरपोर्ट पर लैंडिंग के लिए क्लियरेंस मांगी थी लेकिन पायलट को उसके लिए करीब 30 मिनट तक इंतजार करना पड़ा. आखिरकारी रात 8:30 के आसपास फ्लाइट की इमरजेंसी लैडिंग कराई गई.
 
 ईंधन कम होने की वजह से हुआ
अभी तक इस देरी का कारण पता नहीं चल सका है. अभी तक इस मामले की जांच की जा रही है. पायलट ने फ्लाइट में ईंधन कम होने की शिकायत की थी लेकिन एटीसी की क्लियरेंस मिलने में भी देरी हुई. उस पर एटीसी का कहना था कि एयर ट्रैफिक के कारण ऐसा हुआ था.
 
‘केंद्र सरकार की है साजिश’
वहीं ममता की पार्टी टीएमसी ने इसे केंद्र सरकार की साजिश बताया है. टीएमसी नेताओं ने कहाना है कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय केंद्र सरकार के अधीन आता है और ये जानबूझकर किया गया. बता दें कि ममता बनर्जी मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले का विरोध शुरूआत से ही कर रही है. उन्होंने मंगलवार को लखनऊ में नोटबंदी के खिलाफ रैली की और फिर बुधवार को पटना में रैली कर विरोर्ध प्रदर्शन कर पश्चिम बंगाल लौट रही थीं.