नई दिल्ली : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज लोकसभा में सरकार पर आरोप लगाया कि वह आयकर कानून में संशोधन कर काला धन जमाखोरों की मदद कर रही है. मोदी सरकार जमाखोरों को 50% वापस धन दे रही है. 
 
राहुल गांधी ने कहा कि बेनामी रकम का आधा हिस्सा उन्हें वापस मिल जाएगा. उन्होंने संसद के बाहर कहा कि सरकार ने फिर से जमाखोरों को आधा काला धन लौटा दिया है. सरकार ने आयकर संशोधन बिल सोमवार को लोकसभा में पेश किया था. 
 
‘सरकार ने परंपरा तोड़ी’
इस बिल के प्रावधानों के मुताबिक अघोषित आय पर टैक्स, सेस और सरचार्ज लगाया जाएगा. अघोषित इनकम पर 30% टैक्स, 10% जुर्माना और 33% सरचार्ज का प्रस्ताव रखा गया है. यह कुल मिलाकर 50% टैक्स बनता है. अगर कोई व्यक्ति खुद अपनी अघोषित आय की जानकारी नहीं देता तो उस पर 75% टैक्स और 10% जुर्माना लगेगा. इस तरह कुल 85% टैक्स देना होगा. 
 
विपक्ष के लोकसभा से वॉकआउट पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा, ‘संसद की यह परंपरा रही है कि जब भी किसी का निधन होता है, तो हम उसको सम्मान देते हैं. लेकिन ये पहली बार हो रहा है जब शहीद सैनिकों के लिए शोक प्रस्ताव की मांग ठुकरा दी गई हो. इसलिए हमने वॉकआउट कर दिया. 
 
‘कांग्रेस को भांडा फूटने का डर’
विपक्ष आज संसद में शोक प्रस्ताव की मांग कर रहा था लेकिन स्पीकर ने कहा कि अभी नगरोटा हमले पर पूरा ब्यौरा आना बाकी है. राहुल गांधी के आरोपों का जवाब देते हुए सूचना और प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा, ‘ये दुख की बात है कि कांग्रेस देश की सुरक्षा को लेकर राजनीति कर रही है.’ 
 
उन्होंने कहा, ‘जब अध्यक्ष सूचित कर चुकी हैं कि नगरोटा में सघन तलाशी अभियान चल रहा है. अभियान खत्म होते ही सैनिकों को श्रद्धांजलि दी जाएगी. देश के लोग ऐसी ओछी राजनीति से नफरत करते हैं. कांग्रेस न तो चर्चा चाहती है और न सदन चलने देना चाहती है क्योंकि उन्हें अपना भांडा फूटने का डर है.’