नई दिल्ली: पूरे देश में 8 नवंबर को सरकार के 500 और 1000 के नोटों को बंद करने की घोषणा के बाद हर जगह से अफरा तफरी मची हुई है. आज नोटबंदी का 22वां दिन और महीने का आखिरी दिन है और ज्यादातर कंपनियों में आज के ही दिन सैलरी दी जाती है. जिसके चलते हो सकता है लोगों की सैलरी पर भी फर्क पड़ेगा. 
 
इस वजह से आने वाले 7 दिनों तक सरकार के नोटबंदी के फैसले की असली परीक्षा अब शुरु होगी क्योंकि नोटबंदी के बाद पहली बार लोगों को सैलरी मिलने वाली है. बेशक सरकार और आरबीआई ने लोगों की परेशानी दूर करने के लिए कोई न कोई उपाय तो सोचा होगा. जानें नोटबंदी के बाद लोगों की सैलरी पर क्या फर्क पड़ने वाला है
 
  1. जिसकी सैलरी 24000 से ज्यादा है वो अपने पूरे पैसे एक बार में नहीं निकाल सकेंगे.
  2. जिनकी सैलरी 24000 से ज्यादा है और कैश में मिलती है और तो इन लोगों को इस बार स्पेशल कैंप के तहत सैलरी दी जाएगी.
  3. इतना ही नहीं ऐसे बैंक जिसमें ज्यादा सैलरी और पेंशन अकाउंट्स हैं उन्हें आरबीआई ने 20-30 फीसदी ज्यादा कैश दिया है.
  4. सैलरी इस बार छोटे नोटों, 500 और 2000 के नोटों में मिलेगी. इस वजह से सभी बैंकों ने आरबीआई से ज्यादा कैश की मांग की है. उम्मीद है सैलरी को लेकर कोई हंगामा नहीं होगा. 
  5. पिछले 6-7 दिनों से एटीएम और काउंटर पर कैश की कमी का यही कारण है कि लोगों की सैलरी आज आनी है.