नगरोटा : जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में आज हुए आतंकी हमले को लेकर पहले ही अलर्ट दिया जा चुका था. सुरक्षा एजेंसियों ने 29 और 30 नवंबर को आतंकी हमला होने की आशंका को लेकर अलर्ट जारी किया था. यह मामले में सुरक्षा में चूक होने की बात भी कही जा रही है.
 
आज रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सेनाध्यक्ष से बात कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नगरोटा हमले की जानकारी दी है. अब रक्षा मंत्रालय सुरक्षा में चूक को लेकर जांच करा सकता है. बता दें कि आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच हुई मुठभेड़ में चार आतंकियों को सेना ने मार गिराया था. इस हमले में सेना के सात जवान शहीद और तीन घायल हो गए हैं.
 
चमलियान में भी आतंकी हमला 
मारे गए आतंकियों के पास से 3 एके 47, 20 एके मैगजीन, 16 पिस्टल, 31 ग्रेनड और कई अन्य हथियार बरामद हुए हैं. हमले के बाद सुरक्षा के मद्देनजर नगरोटा के आस-पास के सभी स्कूलों को बंद करा दिया गया था, तो वहीं आतंकी हमले की गंभीरता को देखते हुए कटरा में वैष्णो देवी धाम और दूसरी धार्मिक जगहों पर अलर्ट जारी कर दिया गया था. 
 
सेना का कहना है कि कुछ और आतंकी अभी भी छिपे हुए हैं. हमले के बाद ऊधमपुर में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. वहीं, सांबा के चमलियान में भी आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की थी, जिसे बीएसएफ ने नाकाम कर दिया. दोनों ही ओर से फायरिंग की गई. फायरिंग में बीएसएफ ने तीन आतंकियों को मार गिराया.