महराजगंज :​​​​​ भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने तीन तलाक के विवादास्पद मुद्दे पर अपने विचार रखे. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने मुस्लिम महिलाओं को बराबरी का दर्जा दिलाने के लिए तीन तलाक को खत्म कराने की पहल की है. हमारा मानना है कि मुस्लिम महिलाओं को भी बराबर का हक़ मिलना चाहिए. तीन तलाक उनके अधिकरों पर हनन है. 
 
अमित शाह ने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण बात ये है कि महिला अधिकारों की बात करने वाली कांग्रेस, सपा और बसपा जैसी पार्टियां तीन तलाक का समर्थन कर रही हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने तय किया है कि मुस्लिम महिलाओं को शोषण और नाइंसाफी से मुक्ति दिलाएंगे. उन्हें समानता का अधिकार दिलाएंगे. 
 
महाराजगंज में परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने साहसिक कदम से देश के अंदर पूरी तरह सुरक्षा का वातावरण तैयार किया है.  आज हर आदमी खुद को सुरक्षित महसूस करता है. उन्होंने पांच सौ एवं एक हजार के नोट बंद करने के केंद्र सरकार के फैसले की तारीफ करते हुए कहा कि आज देश का हर गरीब खुश है.