नई दिल्ली : नोटबंदी को लेकर पूरे विपक्ष ने सोमवार को देशभर में विरोध प्रदर्शन किया था. नोटबंदी के बाद से लोगों को हो रही परेशानियों के मुद्दे पर विपक्ष संसद में हंगामा भी कर रहा है. 
 
इसी बीच एक विधायक ने नोट बंदी के विरोध का अलग ही तरीका अपनाया, जिसने सभी का ध्यान आकर्षित कर लिया. तेलगू देशम पार्टी के सांसद शिव प्रसाद विरोधस्वरूप संसद में काले और सफेद कपड़े पहनकर आ गए. 
 
उनके कमीज और पैंट का आधा हिस्सा काला और आधा सफेद था. उनके कपड़ों पर नोटबंदी के विरोध में संकेेंतों में बातें लिखी हुई थीं. साथ ही उन्होंने कुछ तस्वीरों के जरिए भी अपना संदेश देने की कोशिश की थी. 
 
 
हंसते और रोते लोग
इन तस्वीरों में एक तरफ सफेद हिस्से में रोते हुए गरीब आदमी और किसान की तस्वीरें थीं, तो दूसरी तरफ काले हिस्से में हंसते हुए अमीर आदमियों की तस्वीर चिपकी हुई थी. इस कालेे और सफेद के माध्यम से वह बेईमान और सफेद लोगों की स्थिति का संकेत दे रहे थे. यहां तक की उनकी चप्पलें भी काली और सफेद थीं. 
 
अपने इन अनोखे कपड़ों के कारण वह पूरे दिन सांसदों के आर्कषण का केंद्र रहे. सरकार ने नोटबंदी के बाद दावा किया है कि इस फैसले से बेईमान लोगों की नींद उड़ी हुई है लेकिन ईमानदार सुकून में हैं. शिव प्रसाद ने अपने कपड़ों के जरिए इसी बात का विरोध किया.