नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट यानि AIPMT की परीक्षा को रद्द कर दिया है. आंसर शीट लीक होने के बाद परीक्षा को दोबारा करवाने की मांग करती याचिका पर अपना अहम फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सीबीएसई को निर्देश दिया कि वह चार हफ्ते में दोबारा परीक्षा कराए. साथ ही इससे संबंधित सभी संस्‍थानों से कहा कि वह सीबीएसई को दोबारा परीक्षा आयोजित कराने में मदद करें. 

दरअसल, बीते 3 मई को दाखिले के लिए एआईपीएमटी की परीक्षा हुई थी, जिसमें करीब साढ़े 6 लाख छात्रों ने भाग लिया था. विवाद तब शुरू हुआ, जब हरियाणा के रोहतक में पुलिस ने कुछ लोगों को आंसर शीट के साथ गिरफ़्तार किया. इसके बाद कुछ छात्रों ने सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर कर परीक्षा दोबारा कराए जाने की मांग की थी.

बीते 12 जून को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के बाद मामले में 15 जून तक अपना फैसला सुरक्षित रखते हुए परीक्षा के आंसर लीक होने पर सीबीएसई को जमकर लताड़ लगाई थी. न्‍यायालय ने कहा था, ”आपका पूरा सिस्‍टम फेल है और आपका परीक्षा सिस्‍टम  भी पूरी तरह पुराना हो चुका है. अब सूचना प्रोद्योगिकी के जमाने में आपको परीक्षा के नए तरीके अपनाने होंगे. साथ ही न्‍यायालय ने बोर्ड के वकील से कहा, अगर एक भी गलत शख्‍स को एडमिशन मिल जाता है तो क्‍या हम दिन रात मेहनत करने वाले अपने होनहार छात्रों का बलिदान नहीं दे रहे हैं?” सुप्रीम कोर्ट ने उससे पहले कुछ छात्रों की याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए 5 जून को घोषित होने वाले परीक्षा के नतीजों पर रोक लगा दी थी. याचिकाकर्ता छात्रों ने इस परीक्षा को रद्द करने की मांग की थी.

IANS