पीलीभीत. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में एक और पत्रकार की हत्या की कोशिश का मामला सामने आया है. एक चैनल के पत्रकार हैदर खान को अरविंद प्रकाश और उसके साथियों ने पहले तो जमकर पीटा और फिर मोटरसाइकिल के पीछे बांधकर बेहोश होने तक घसीटते रहे. बाद में वे उसे ऐसे ही छोड़कर चले गए. पत्रकार हैदर के मुताबिक, उसने कुछ दिन पहले अरविंद प्रकाश नाम के एक व्यक्ति की ख़बर दिखाई थी, जिसने अपने भाई की जमीन पर जबरदस्ती कब्ज़ा करने के लिए अपने पिता की पिटाई कर दी थी.

पत्रकार हैदर का इलाज फिलहाल पीलीभीत के सरकार अस्पताल में चल रहा है. हैदर खान ने बयान दिया कि आनंद और इनके लड़कों ने घेर लिया और फिर मारना-पीटना शुरू कर दिया. रंजिश ये थी कि इन लोगों का विवाद चल रहा था. इनको लगा कि मैं इनके भाई की मदद कर रहा हूं. इनका कहना है कि तुम्हें जिंदा नहीं छोड़ेंगे.

इधर, यह भी खबर आ रही है कि यूपी सरकार पत्रकारों के लिए एक हेल्पलाइन और एक वेबसाइट शुरू करने जा रही है जहां वह अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं. गौरतलब है कि यूपी में पत्रकारों पर हमले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. शाहजहांपुर के पत्रकार जगेंद्र सिंह को पुलिसवालों ने जिंदा जला दिया था, जिसके बाद उनकी मौत हो गई.