मुंबई. अब रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने भी पाकिस्तानी कलाकारों के विरोध और समर्थन की बहस में अपनी राय जाहिर की है. उन्होंने कहा कि उनके ​लिए कला और संस्कृति से पहले देश है. 
 
बता दें कि उरी हमले और भारत की पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है. देश में पाकिस्तानी कलाकारों पर प्रतिबंध करने की बहस की जा रही है. बॉलिवुड में इसके पक्ष और विपक्ष में अलग-अलग राय सामने आ रही है. 
 
राजनीति के लिए नहीं बना 
सर्जिकल स्ट्राइक के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने करण जौहर की​ फिल्म ‘ए दिल है मुश्किल’ को लेकर धमकी दी थी. इसके बाद फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान पाकिस्तान लौट गए थे. अब ​चार राज्यों में फिल्म की रिलीज पर भी रोक लगा दी गई है.
 
इसी विवाद में मुकेश अंबानी ने भी अपना पक्ष सामने रखा. उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए देश पहले है. मैं इंटलेक्चुअल नहीं हूं इसलिए मैं सभी चीजों को नहीं समझता. बेशक सभी भारतीयों की तरह इंडिया मेरे लिए सबसे पहले है.’ राजनीति में आने को लेकर पूछे गए एक सवाल पर उन्होंने कहा कि वह राजनीति के लिए नहीं बने हैं. मुकेश अंबानी ने ये बातें मुंबई में एक प्रोग्राम ‘ऑफ द कफ’ में दर्शकों के सवालों के जवाब में कहीं.