भुवनेश्वर. ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड एसयूएम अस्पताल के आईसीयू वार्ड में आग लगने की वजह से 23 लोगों की मौत हो गई है. करीब 20 लोग आग में झुलस गए हैं, जबकि कुछ लोगों के वार्ड में फंसे होने की भी आशंका जताई जा रही है. ज्यादातर मरीजों की मौत दम घुटने से हुई है. हालांकि आग पर काबू पा लिया गया है.
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दुर्घटना पर शोक प्रकट किया है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि स्वास्थ्य मंत्री से इस बारे में बात हुई है और घायलों को जल्द से जल्द एम्स लाने को कहा गया है. पीएम मोदी ने घायलों को हरसंभव मदद उपलब्ध करने का आदेश भी दिया है.
 
चश्मदीदों के अनुसार आग शाम करीब 7.30 बजे अस्पताल की पहली मंजिल पर लगी, इसके बाद देखते-देखते ही ये आग तेजी से फैल गई. शुरुआती जांच में आशंका जताई जा रही थी की ये आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी है.
 
आग लगने के तुरंत बाद अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई. 24 दमकल की गाड़ियों ने घंटों कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया. वहीं फायर ब्रिगेड की टीम ने अस्पताल के कर्मचारियों की मदद से भर्ती बाकी मरीजों को आराम से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. इस बीच भुवनेश्वर के जिला प्रशासन ने जांच के आदेश दे दिए हैं. आखिर आईसीयू वार्ड में आग इस तरह कैसे लग गई.