रजौरी. पाकिस्तानी सैनिकों ने लगभग एक सप्ताह तक शांति के बाद रजौरी जिले में रविवार को दो बार सीजफायर का उल्लंघन किया. भारतीय फौज ने भी जवाबी कार्यवाई की है. पाकिस्तानी सेना की फायरिंग में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया है. पाकिस्तानी सेना ने नियंत्रण रेखा पर चौकियों को निशाना बनाया है और वहीं से गोलीबारी करके संघर्षविराम का उल्लंघन किया. 
 
रक्षा मंत्रालय के अनुसार पाकिस्तानी सैनिकों ने एलओसी के पास रजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में बिना किसी उकसावे के गोलीबारी की. नियंत्रण रेखा की सुरक्षा में भारतीय सैनिकों ने भी जवाबी कार्रवाई की है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सुबह हुए सीज फायर वॉयलेशन में कोई जवान घायल नहीं हुआ था, लेकिन शाम को दोबारा हुए सीज फायर में एक जवान शहीद हो गया.
 
सेना के एक अधिकारी ने बताया कि भारतीय सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में किए गए सर्जिकल ऑपरेशन के बाद से अब तक नियंत्रण रेखा पर सीजफायर का उल्लंघन 25 से ज्यादा बार किया जा चुका है. बता दें 18 सितंबर को उरी सेक्टर में आतंकियों ने सेना के एक कैंप पर हमला कर दिया था. इसमें सेना के 19 जवान शहीद हो गए थे.
 
इसके बाद भारतीय सेना ने 29 सितंबर को पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक किया था. भारतीय सेना ने दावा किया था सर्जिकल स्ट्राइक में आतंकियों के 50 से ज्यादा आतंकियों को मार दिया था. हालांकि पाकिस्तान ने भारतीय सेना के ऑपरेशन के दावे का खंडन किया था. पाकिस्तानी सेना ने कहा था कि भारत ने कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया. केवल एलओसी पर दोनों पक्षों में फायरिंग हुई थी, जिसमें हमारे दो जवान मारे गए थे.